विशेष वैश्विक कार्यक्रम

COVID- 19 के दौरान, जुड़िये एक अनोखा डिजिटल आराधना अनुभव के लिए पास्टर रिक और के वोरन, और दुनिया के अनन्य चर्च लीडर्स के साथ!

  • वीडियो देखेंा

पास्टर और अगुवें

कोविड- 19 के वैश्विक माहामारी ने इतना कुछ बदल दिया है की हमारी कलीसिया ईस्टर का अनुभव इस वर्ष कैसे करेगी | ये पहली बार होगा जहाँ हम में से अधिकतर यीशु के पुनःरुत्थान के उत्सव को कलीसिया के ईमारत के बाहर मनायेंगे |इससे कोई फर्क नहीं पड़ता की परिस्थितियां कैसी है या हम कैसे इक्कठा होंगे , ईस्टर के सन्देश का अर्थ वोही बना रहेगा :
यीशु संसार की आशा है |

कलीसियाओं के अगुवे होने के नाते , ये एक नई चुनौती है , परन्तु ये एक नयाँ अवसर भी है की इस चोंट खाए हुए संसार में पहले की तुलना में और भी पहुच सके |

जब आप साहस , बल और प्रेम के साथ ईस्टर सन्डे की ओर आगे बढ़ रहे है के और मै आपके लिए प्रार्थना करना चाहता हु और आपको उत्साहित करना चाहता हु |

हमारे साथ ऑनलइन जुड़िये, एक आराधना और प्रार्थना के समय के लिए, दुनिया भर के हमारे दोस्तों और साथी चर्च लीडर्स के साथ:

  • ब्रायन और बोबी हॉस्टन , ऑस्ट्रेलिया
  • निक्की और पिप्पा गुम्बेल , यूनाइटेड किंगडम
  • टोनी और मेई एओ , सिंगापुर
  • कार्लिटो और लीला पेस , ब्राज़ील
  • लौरेंट और चन्टल म्बंडा, रवांडा
  • टी. डी. और सेरिटा जेक्स , युएसए

हम प्रार्थना करेंगे की ईस्टर पर हमारी कलीसिया,समाज और संसार मसीह की देह के रूप में एकता में बंधे रहे ताकि पुनःरुत्थान की आशा को थामे रहे |

आपसे मिलने की प्रतीक्षा में,

पास्टर रिक
  • वरशिप आर्टिस्ट

Tasha Cobbs Leonard

Chris Tomlin

Brooke Ligertwood

Matt Redman

अन्य स्थानों में जुड़ने के लिए

शेयर करे और अन्य पास्टर को आपके साथ जुड़ने लिए उत्साहित करे !

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin

Rick Warren

Founding Pastor, Saddleback Church

As the founding pastor of Saddleback Church with his wife Kay, Pastor Rick Warren leads a 30,000-member congregation in California with campuses in major cities around the world. Saddleback Church has more than 300 community ministries to serve groups including veterans, single parents, orphans, prisoners, addicts, and those living with a mental illness.

As a global strategist, Pastor Rick advises leaders in the public, private, and faith sectors on leadership development, poverty, health, education, and faith in culture. He founded The PEACE Plan to address five global issues—spiritual emptiness, self-serving leadership, poverty, disease, and illiteracy—through the power of ordinary people in the local church. He also leads the Purpose Driven Network of churches, a global coalition of congregations in 164 countries. More than 500,000 pastors and priests have been trained worldwide.

Brian Houston

Australia

As a leader, Pastor Brian Houston is highly regarded for his boldness, innovation and vision. As a church pastor, he is well respected for his passion for the cause of Christ and the local church, and for preaching messages that change mindsets and ministries. But at HOME – Hillsong Church – Pastor Brian is most loved for being the ‘dad of the house’ – a pastor who loves God and people, and a speaker of life who declares, ‘The best is yet to come’.

Tony and Mei Yeo

Singapore

Rev Tony Yeo is the Senior Pastor of Covenant Evangelical Free Church. His passion for investing in the future generation through disciplemaking and mentoring is witnessed in the 28 years of his faithful leadership.

Pastor Tony has been serving as the youngest General Secretary of the Evangelical Fellowship of Singapore (EFOS) since 2006 and the Executive Secretary of the Global Day of Prayer (GDOP) in Singapore since 2008, which culminated at the Jubilee Day of Prayer (JDOP) in 2015 where 51,000 Christians gathered at the new Sports Hub. He is also the Executive Secretary of Celebration of Hope held in May 2019, which united the Body of Christ in Singapore to proclaim Jesus Christ, the One Name who gives solid hope to those who believe in Him.

Pastor Tony released his first book – Leading Beyond the Second Chair – A Certain Kind of Leadership in 2012. He graduated from Singapore Bible College with a Bachelor of Theology with Honours and also holds a post-graduate Diploma in Spiritual Formation from Tyndale Seminary, Toronto. He is married to Choy Mei, and together they have two sons, Timothy and Noah. His eldest son, Timothy Yeo, is now pursuing his Masters of Divinity (MDiv) at Trinity Evangelical Divinity School (TEDS) in Chicago, US.

Dr. Laurent Mbanda and Family

Rwanda

The Life of a Christian Servant-Leader

For many Christian leaders, the path that leads them to their appointed roles is often paved with faith, trust and courage. Such is the case with the Rev. Dr. Laurent Mbanda. Dr. Mbanda was born in Rwanda and raised in Burundi, where he lived until he was 20. From that age onward, he embarked on an unforgettable voyage. In fact, by the time he was 30, he had lived and served in 18 African countries. This was only the beginning, however, for a man who would soon enter a world of international and Christian service, which would propel him to serve in various roles of authority, ultimately leading to the Anglican Church in Rwanda.

His professional and spiritual background can be traced to the time he accepted Christ into his life. Though he prayed many times to receive Jesus — in some cases just to win the approval of missionaries offering services and goods — it was not until 1970 that he had a “real” encounter with God. That’s when he rededicated his life to Christ and began feeling God’s desire for him to make it his life’s purpose to care for people in need. Dr. Mbanda acted on this instruction, and began his career in holistic ministry to the poor, children, widows and orphans. He also always had a special interest in the development of clergy and lay leaders. To this day, Dr. Mbanda says he loves seeing people come to Christ. He also loves to plant churches and help them grow so they can truly become the “light and salt of the earth.”

Dr. Mbanda’s work in full-time ministry began in 1981 when he served as the Country Director in Burundi with Campus Crusade for Christ. Four years later, he went to the United States for graduate school, during which time he became Director of the African Fellowship Ministry at International Students Inc., based in Colorado Springs. In 1990, Dr. Mbanda moved to Virginia where he served as the Africa Director for Christian Aid Mission, working with indigenous missions. Then in 1991, Mbanda and his wife, Chantal, founded Christian African Leadership Ministries, Inc., in Charlottesville, Va. The ministry aimed to provide leadership skills to Christian leaders on the African continent as well as vocational and operational training.

In 1993, Dr. Mbanda joined the Compassion International family, serving in various roles, including Associate Area Director of Program, Senior Program Development Specialist, Child Ministry Program Development Director, Vice President of Program Development, Area Director for East Africa, and his current position as Vice President of Africa Region. In 2004, after spending 21 years in the United States, Mbanda and his family returned to Africa. They currently live in his homeland of Rwanda, where he and his wife, Chantal, continue to care for orphans at the ministry they founded, called New Hope Homes.

From an academic and professional perspective, Dr. Mbanda is a graduate of Kenya Highlands Bible College. He completed coursework for his Master of Arts in missiology from Fuller Seminary’s School of World Missions. In addition, he has a Master of Arts degree in Christian education from Denver Seminary, and a doctorate from Trinity International University in Deerfield, Ill. In 2003, he was named as a member of the International Who’s Who of Professionals.

Dr. Mbanda’s extensive background in ministry and international nonprofit work has given him an experience that is parallel to few. His work representing organizations at high levels combined with his strong sense of business and commitment to corporate objectives have propelled him to serve in various roles of leadership and authority. In addition, due to his many connections and relationships with international and respected nongovernmental organizations (NGOs), churches, Christian organizations and nonprofit groups, he is considered by many an expert in ministry, business operations and development.

On a personal note, Dr. Mbanda and his wife Chantal have been married more than 25 years. Chantal is Director of New Hope Homes. The couple has three children: Erica, 24, Eric, 22, and Edwin, 19. Erica is a graduate student majoring in psychology while working full time at Compassion International. Eric, who is pursuing acting and sports medicine, lives in Hollywood, Calif. Edwin is a sophomore in college, where is majoring in business and plays basketball. The family quotes Joshua 24:15 as their guiding Bible verse: “As for me and my household, we will serve the LORD.”

Nicky and Pippa Gumbel

England

Nicky and Pippa Gumbel lead HTB Church, the largest church in the Church of England. They are pioneers of the Alpha course, an introduction to the Christian faith now running in tens of thousands of churches of all denominations in 160 countries. They also write a daily online commentary, the ‘Bible in One Year’, which is read by more than three million people every day. They have three children.

T.D. and Serita Jakes

United States

Bishop T. D. Jakes is a charismatic leader, visionary, provocative thinker, and entrepreneur who serves as senior pastor of The Potter’s House, a global humanitarian organization and 30,000-member church located in Dallas.

Named “America’s Best Preacher” by Time Magazine and CNN, Jakes’ voice reverberates from the world’s most prominent stages from the White House to the Aspen Institute to Nasrec Expo Centre in Johannesburg, South Africa.

Beyond the pulpit, Jakes’ worldwide impact is also felt through high profile conference series such as MegaFest which recently drew tens of thousands to Dallas in June 2017, world renown “Woman Thou Art Loosed” which sells out at every appearance and the standard bearer for ecclesial learning, the annual “International Pastors & Leadership” conference.

A new model for the 21st Century Renaissance man, Jakes is a committed philanthropist who gives back on an ongoing basis to the communities that he serves worldwide.

As a business leader, his media and entertainment empire spans film, television, radio, music and best-selling books, and includes an award winning music label and a self-titled talk show that aired nationally in 2016. Viewers may now capture his ‘behind the scenes’ essence in a new subscription-based platform called “Bishop’s Village.”

Among his trademark films are “Miracles from Heaven,” the follow up to “Heaven is for Real” and a made-for-TV-film, “Faith under Fire” which aired recently on the Lifetime network. Jakes is a New York Times bestselling author of three top tens: “Instinct,”“Destiny,” “Soar,” the newest entrepreneurship-focused title and latest release in 2019; “Crushing; God turns pressure into power.”

Married to Serita for more than three decades, he is the father of five and a proud grandfather of eight.

Carlito and Leila Paes

Brazil

Carlito and Leila Paes are the lead pastors of the City Church in São José dos Campos (Brazil) and founders of the Purpose Driven Ministries Brazil and the Inspire Network of Churches with over 600 associated churches.

Before the Purpose Driven movement, the church had about 600 members and today is a thriving multisite community with over 20,000 members and 20 planted churches in different parts of Brazil as well as over 30 new churches being planted. Its main campus has over 70 acres with areas dedicated for sports, education and simultaneous celebrations. The City Church is responsible for many ministry organizations in the fields of Education, Communication and Social Aid.

Carlito and Leila are part of the Global Kingdom Partnership Network (GKPN) in global instance. Carlito Paes is a lecturer and author of 28 books and holds a Bachelor and Masters Degree in Theology. Leila Paes has a Bachelor Degree in Psychology and Christian Education and is finishing her Masters in Counseling at Nyack College (NY). The couple has 4 children and lives in São José dos Campos since 1997.

रिक वॉरेन

संस्थापक पादरी, सैडलबैक चर्च

सैडलबैक चर्च के पादरी रिक वारेन और उनकी पत्नी के 30,000 लोगो की कलीसिया को कालफोर्निआ में बड़े कैम्पस के साथ दुनिया के खास शहरो में लीड करते हैं| सैडलबैक चर्च में बुजुर्गों, एकल माता-पिता, अनाथों, कैदियों, नशा करने वाले और मानसिक बीमारी से ग्रसित लोगों की सेवा के लिए 300 से अधिक कम्युनिटी मिनिट्रीज़ हैं जो की अलग अलग ग्रुपस की सेवा करती हैं |

ग्लोबल लेवल के रणनीतिकार के रूप में पादरी रिक ने पब्लिक , प्राइवेट और विश्वास क्षेत्र के नेताओं को लीडरशिप डेवलपमेंट , गरीबी, स्वास्थ्य, शिक्षा और संस्कृति में विश्वास पर सलाह देते है! उन्होंने The PEACE प्लान की स्थापना की ताकि वो पांच ग्लोबल बड़े मुदे — आध्यात्मिक शून्यता, सेल्फ -सर्विंग लीडरशिप, गरीबी, बीमारी और अशिक्षा को लोकल चर्च के आम लोगो की शक्ति द्वारा सम्बोधित कर सके| वह 164 देशों में मण्डलों के गठबंधन, चर्चों के उद्देश्य संचालित नेटवर्क का नेतृत्व करते है और उस नेटवर्क के माध्यम से दुनिया भर के चर्चों के 500,000 से ज़्यादा पास्टर्स एंड प्रीस्ट्स को प्रशिक्षित किया गया है|

Tony and Mei Yeo

Singapore

रेव्ह. टोनी एओ कोवेनेंट इवैंजेलिकल फ्री चर्च के सीनियर पास्टर है | उनका आनेवाली पीढ़ी के लिए चेले बनाना और अगुवाई करने में जो निवेश किया गया समय है वो उनके 28 वर्षों के विश्वासयोग्य अगुवाई की एक गवाही है |

पास्टर टोनी 2006 से इवैंजेलिकल फ़ेलोशिप सिंगापुर ( इएफओएस ) के युवां जनरल सेक्रेटरी के रूप सेवारत है और सिंगापुर में 2008 से ग्लोबल डे ऑफ़ प्रेयर के एग्जीक्यूटिव सेक्रेटरी है , जिसका समापन 2015 में न्यू स्पोर्ट हब में जुबिली डे ऑफ़ प्रेयर ( जेडीओपी ) में 51000 इसाई लोगों की सभा के साथ हुआ | 2019 में हुए सेलिब्रेशन ऑफ़ होप के वे एग्जीक्यूटिव सेक्रेटरी रहे है , जब यीशु मसीह की घोषणा के लिए मसीह की देह सिंगापुर में एकता में आयी थी , एक ऐसा नाम जो उसपर विश्वास करनेवालों को मजबूत आशा प्रदान करता है |

2012 में पास्टर टोनी ने अपनी पहली किताब – ‘लीडिंग बियॉन्ड द सेकंड चेयर – अ सर्टेन काइंड ऑफ़ लीडरशिप’ को प्रकाशित किया था | वे सिंगापुर बाईबल कॉलेज से बैचलर ऑफ़ थिओलोजी ओनर्स के साथ स्नातक हुए है टिंडेल सेमिनरी , टोरंटो से पोस्ट- ग्रेजुएट का डिप्लोमा स्पिरिचुअल फार्मेशन में प्राप्त किया है | उनका विवाह चोय मेई से हुआ है , और उन्हें दो पुत्रों की प्राप्ती हुई है , तिमोथी और नोहा | उनका बड़ा बेटा, तिमोथी एओ , ट्रिनिटी इवैंजेलिकल डिविनिटी स्कूल ( टीइडीएस ) शिकागो , युएस से अपनी मास्टर ऑफ़ डिविनिटी ( एमडिव्ह ) को पूरा कर रहे है |

21 जनवरी 2019

डॉ. लौरेंट म्बंडा और परिवार

Rwanda

एक सेवक – अगुवे का मसीह जीवन

कई मसीह अगुवों के लिए , वो मार्ग जो उन्हें उनके नियुक्त भूमिका की ओर ले जाता है उसमे विश्वास,भरोसा और हिम्मत बिछा हुआ होता है | यही बात रेव्ह. डॉ. लौरेंट म्बंडा के साथ है | डॉ. म्बंडा का जन्म रवांडा में हुआ था और पालन पोषण बुरुंडी में हुआ , जहा वे 20 वर्ष तक रहे | उसी उम्र से आगे , उन्होंने अपनी न भूलने वाली यात्रा को आरम्भ किया | दरअसल , उनकी 30 की उम्र में , उन्होंने 18 अफ़्रीकी देशों में रहकर सेवा की | ये सिर्फ आरम्भ था , फिरभी , एक ऐसे व्यक्ति के लिए जो जल्द ही अंतरराष्ट्रिय और मसीह सेवाओं में प्रवेश करने वाला था जो उसे रवांडा में ‘एंग्लिकन चर्च’ में प्रेरित करेगा भिन्न प्रकार के अधिकारों और सेवाओं को करने के लिए |

जिस क्षण उन्होंने अपने जीवन में मसीह को ग्रहण किया तब से आप उनके व्यवसायिक और आत्मिक जीवन को जांच सकते हो | हालांकि उन्होंने यीशु को पाने के लिए कईबार प्रार्थना की – कई बार मिशनरियों की सम्मति पाने के लिए सेवाओं और दाम देना पडा – और 1970 में उनका सामना सच्चे परमेश्वर के साथ हुआ | वहीपर उन्होंने अपना जीवन मसीह पुनः समर्पित किया और ये जाना की प्रभु की इच्छा उनके जीवन के लिए ये है की जरुरतमंद लोगों की सुधि ले | डॉ. म्बंडा इस निर्देश पर चलने लगे और अपने जीवन को गरीब,बच्चे , विधवा और अनाथों की पवित्र सेवा के लिए दे दिया | उनका पादरी और नए अगुवों के उन्नति में दिलचस्पी थी | आज तक , डॉ. म्बंडा कहते है उन्हें लोगों को मसीह के पास आता हुआ देखना अच्छा लगता है | उन्हें कलीसिया स्थापित करना भी अच्छा लगता है और उन्हें उन्नत करना भी ताकि वो सही मायने में “ जगत की ज्योति और नमक बने |”

डॉ. म्बंडा 1981 से जब वे बुरुंडी में कैंपस क्रूसेड फॉर क्राइस्ट में कंट्री डायरेक्टर के रूप पुर्ण काल की सेवा को आरम्भ किए | चार वर्ष के पश्च्यात , वे यूनाइटेड स्टेट्स में स्कूल स्नातक होने के लिए गए , इस समय काल के दौरान वे अफ्रीकन फ़ेलोशिप मिनिस्ट्री इंटरनेशनल स्टूडेंट्स इंक. जो कोलोराडो स्प्रिंग में स्थित है डायरेक्टर बन गए | 1990 में, डॉ. म्बंडा वर्जिनिया गए यहाँ अफ्रीका डायरेक्टर फॉर क्रिस्चियन ऐड मिशन में स्वदेशी मिशंस में सहातया करने लगे| 1991 में, म्बंडा और उनकी पत्नी चंतल ने क्रिस्चियन अफ्रीकन लीडरशिप मिनिस्ट्रीज को चर्लोत्तेस्विले में स्थापित किया | मिनिस्ट्री का लक्ष था की मसीह अगुवों और अफ्रीकन महाद्वीपों को अगुवेपन के हुनर और साथ में व्यवसायिक और क्रियाशील प्रशिक्षण दे |

1993 में , डॉ. म्बंडा कम्पैशन इंटरनेशनल फॅमिली के साथ जुड़ गए , भिन्न कार्य किए , जिसमे शामिल है एसोसिएट एरिया डायरेक्टर ऑफ़ प्रोग्राम , सीनियर प्रोग्राम डेवलपमेंट स्पेशलिस्ट , चाइल्ड मिनिस्ट्री प्रोग्राम डेवलपमेंट डायरेक्टर , वाईस प्रेसिडेंट ऑफ़ प्रोग्राम डेवलपमेंट , एरिया डायरेक्टर फॉर ईस्ट अफ्रीका , और वर्तमान स्थिति में वाईस प्रेसिडेंट ऑफ़ अफ्रीका रीजन के रूप में | 2004 में , यूनाइटेड स्टेट्स में 21 वर्ष बिताने के पश्च्यात , म्बंडा और उनका परिवार अफ्रीका में लौट आये | अभी वे अपने गृह नगर रवांडा में रहते है , जहां वे और उनकी पत्नी , चंतल , अनाथों की सुधि लेने वाली सेवकाई को आरम्भ किया था जिसका नाम ‘न्यू होप होम्स’ सँभालते है |

शैक्षिक और व्यवसायिक दृष्टिकोण से , डॉ. म्बंडा केन्या हाइलैंड बाईबल कॉलेज से स्नातक है | उन्होंने पुर्ण किया है अपने कोर्सवर्क को अपने मास्टर ऑफ़ आर्ट्स मिस्सिओलोजी में फुलर सेमिनरी स्कूल ऑफ़ वर्ल्ड मिशन से | साथ ही , उनके पास मास्टर ऑफ़ आर्ट्स की डिग्री है जो उन्होंने क्रिस्चियन एजुकेशन में डेन्वेर सेमिनरी पाया है और डॉक्टरेट को पाया है ट्रिनिटी इंटरनेशनल युनिवर्सिटी से जो डियरफिल्ड I11 में है | 2003 में , उनका नामांकन किया गया था इंटरनेशनल हु ऑफ़ प्रोफेशनल के सदस्य के रूप में |

डॉ.म्बंडा का सेवकाई में व्यापक पृष्टभूमि और अंतरराष्ट्रिय लाभ निरपक्ष कार्य ने उन्हें अनुभवों को दिया है जो कुछ ही लोगों के पास है | उनके संस्थाओं के प्रतिनिधित्व के कार्य ऊँचे स्टार के है जो उनके व्यवसायिक अनुभव और संघठित निष्पक्ष समर्पण के साथ में जुड़ा हुआ है जो उन्हें अगुवाई और अधिकारों की भिन्न भूमिकाएं करने में मदत करती है | साथ ही , उनके कई इंटरनेशनल और नॉनगवर्मेंटल संस्थाओं ( एनजीओ ) , चर्चेज , क्रिस्चियन संस्थाओं और नॉनप्रॉफिट ग्रुप्स के साथ संपर्क और रिश्ते है , उन्हें कई सारे लोगों के द्वारा मिनिस्ट्री में माहिर , बिज़नस ओपरेशंस और डेवलपमेंट में सुविचारित किया जाता है |

एक व्यक्तिगत रूप में , डॉ. म्बंडा और उनकी पत्नी चंतल के विवाह को 25 वर्ष से ज़्यादा हो चुके है | चंतल न्यू होप होम्स की डायरेक्टर है | इस युगल को तीन संताने है , एरिका 24 वर्ष , एरिक 22 वर्ष और एडविन 19 वर्ष | एरिका साइकोलोजी में स्नातक है और कम्पैशन इंटरनेशनल इंक. में पुर्ण काल सेवारत है | एरिक , एक्टिंग और स्पोर्ट मेडिसिन को कर रहा है , हॉलीवुड, कैलिफ़ोर्निया में रहता है | एडविन कॉलेज में सोफ्मोर में है , व्यवसाय में पढ़ रहा है और बास्केटबॉल खेलता है | इस परिवार ने बाईबल से यहोशु 24:15 को अपने सामने रखा है ; “परन्तु मैं तो अपने घराने समेत यहोवा की सेवा नित करूंगा ”

निकी और पिप्पा गम्बेल

England

निकी और पिप्पा गम्बेल ऐच टी पी चर्च के अगुएं हैं | यह चर्च ऑफ़ इग्लैंड की सबसे बड़ी कलीसिया हैं|
वे अल्फा कोर्स के अग्रदूत हैं, यह कोर्स मसीह विश्वाश का परिचय कराती है ।
यह कोर्स 160 देशों मै दस हजार से भी अधिक कलीसियाओं मै किया जा रहा है जोकि विभिन मसीही डेनोमिनाशंस के है।
वे एक दैनिक ऑनलाइन कमेंट्री, जिस का शीर्षक ‘बाइबल इन वन ईयर ’ है , के लेखकः है जिसे तीस लाख लोग रोज पड़ते हैं|
इनके तीन बच्चे भी है|

T.D. and Serita Jakes

United States

बिशप टी. डी. जेक्स एक कैरिस्मैटिक नेता, कल्पना करने वाले और उत्तेजक सोच वाले व्यवसायी हैं जो ‘द पॉटर्स हाउस’ में, एक मानवीय संस्था में एक सीनियर पादरी के रूप में सेवा करते हैं और एक 30,000 सदस्यता वाले चर्च में जोकि डल्लास में हैं।

टाइम मैगजीन और सी.एन.एन में उनका नाम ‘अमेरिका के श्रेष्ठ प्रचारक’ के रूप में नामित किये गए हैं। जेक्स की आवाज़ विशव के प्रसिद्ध मंचो “वाईट हाउस से लेकर अस्पेन इंस्टीट्यूट से नसरिक एक्सपो सेंटर” जो कि दक्षिण अफ्रीका, जोहानिसबर्ग में है, गूंजती है।

मंच के बाहर भी विश्वव्यापी स्तर जेक्स का प्रभाव महसूस किया जाता है। व्यापक कॉन्फ्रेंस श्रृंखला के माध्यम से जैसे मेगाफेस्ट जिसमे हाल ही में हज़ार गुनाह लोग डालिस में पहुंचे जून 2017 में ,विश्वब्यापी “वोमेन दाऊ आर्ट लूसड” जो हर बार बिकता है और वार्षिक ‘इंटरनॅशनल पास्टर्स लीडरशिप’ कांफ्रेंस।

एक नव आदर्श इक्कीसवीं सदी के लिए, जेक्स एक प्रतिबद्ध लोकोपकारक है जो जुड़े हुए कम्युनिटीज में सेवा लगातार करते हैं।

एक व्यापारी नेता के रूप में उनके मीडिया और मनोरंजन सम्राज्य ने फैलाया है – फिल्म्स , टेलीविजन , रेडियो , म्यूज़िक और बेस्ट बिक्री किताबें उसमे शामिल है- अवार्ड अर्ज़ित म्यूज़िक लबले और सेल्फ नामित टॉक शो जो की राष्ट्रीय स्तर पर प्रसारित है 2016 में। दर्शक अब उनका “बिहाइंड द सीन्स” पा सकते हैं, जिससे ‘बिशप्स विलेज’ कहा जाता है।

उनकी ट्रेड मार्क फिल्म्स है ‘मिरेकल फ्रॉम हेवन,’ ‘हेवन इस फॉर रियल,’ और टीवी फिल्म्स ‘ फेथ अंडर फायर ‘ जो की हाल ही में लाइफटाइम नेटवर्क पर प्रसारित हुई। जेक्स न्यूयोर्क टाइम्स के बेस्ट सेल्लिंग लेखक “टॉप 3 आउट ऑफ़ टॉप 10” : “इंस्टिंक्ट”, “डेस्टिनी “, “सोअर” और नए व्यवसाय आधारित टाइटल और लेटेस्ट रिलीज़ 2019 के “क्रशिंग , गॉड टर्न्स प्रेशर इंटू पावर “

तीन दशक से वह सैरीटा के साथ विवाहित हैं। उनके पांच संतान है और गर्व के साथ उनके आठ नाती पोते हैं।

Carlito and Leila Paes

Brazil

कार्लीटो और लीला पेस साओ होजै डोस कम्पोस ( ब्राज़ील स्थित ) सिटी चर्च के लीड पास्टर है और ‘परपोज़ ड्रिवेन मिनिस्ट्री ब्राज़ील’ और ‘इनस्पायर नेटवर्क ऑफ़ चर्चेस’ के फाउंडर है जिसमे 600 से भी अधिक कलीसियाएं है| परपोज़ ड्रिवेन आन्दोलन के पहले , कलीसिया में करीब 600 सदस्य थे और आज एकाधिक बढ़ता हुआ समाज है 20000 से भी ज्यादा के सदस्यों का और 20 स्थापित कलीसियाएं ब्राज़ील के विभिन्न भागों में है साथ ही 30 नयी कलीसियाएं स्थापित की गयी है | इसका मुख्य कैंपस 70 एकड़ में फैला हुआ है जो की खेलकूद , शिक्षा और एकत्रित समारोह के लिए समर्पित किया गया है | सिटी चर्च कई मिनिस्ट्री संस्थाओं के शिक्षा , संचार और सामजिक सहयोग के लिए प्रतिबद्ध है | कार्लीटो और लीला ग्लोबल किंगडम पार्टनरशिप नेटवर्क ( जीकेपीएन ) का हिस्सा है वैश्विक उदाहरण के लिए | कार्लीटो पेस एक प्राध्यापक और 28 किताबों के लेखक है और थिओलोजी में बैचलर और मास्टर की डिग्री प्राप्त हुई है | लीला पेस के पास सायिकोलोजी और क्रिस्चियन एजुकेशन की बैचलर की डिग्री है और न्यैक कॉलेज ( एन वाई ) से काउन्सलिंग की अपनी मास्टर्स को पूरा कर रही है | युगल को 4 संताने है और 1997 से वे साओ होजै डोस कम्पोस में रहते है |